विदेश समाचार

Image
गर्मी से बेहाल हुए अमेरिका और यूरोप, टूटे सालों के रिकॉर्ड, जर्मनी और फ्रांस में अलर्ट जारी

गर्मी से बेहाल हुए अमेरिका और यूरोप, टूटे सालों के रिकॉर्ड, जर्मनी और फ्रांस में अलर्ट जारी

1947 में फ्रेंकफर्ट में दर्ज हुआ था 38.2 डिग्री सेंटीग्रेड तापमान उसके बाद इस बार 40 डिग्री सेंटीग्रेड तक जा सकता है पूरे देश का तापमान और फ्रांस के राष्ट्रपति मैक्रों ने लोगों से की एहतियात बरतने की अपील वही अमेरिका में गर्मी से अब तक सात प्रवासियों की हो चुकी मौत है

इस सप्ताह की शुरुआत से ही अमेरिका और यूरोप के कई देश गर्मी से बेहाल है। पहली बार कई सालों बाद यूरोप के कुछ शहरों में तापमान ने वर्षों पुराने रिकॉर्ड तोड़े हैं। जर्मनी और फ्रांस में प्रशासन को गर्मी का अलर्ट जारी करना पड़ा है। गर्म हवाओं के चलते जर्मनी, फ्रांस और बेल्जियम जैसे देशों में गर्मी चरम पर है। आगामी दिनों में यहां मौसम और भी गर्म रहने की भविष्यवाणी की गई है। विशेषज्ञों के मुताबिक दुनिया भर में गर्म हवाओं का सिलसिला बढ़ रहा है। जर्मनी यूरोप का ऐसा ठंडा देश माना जाता है, जहां घरों में आम तौर पर पंखे नहीं लगाए जाते लेकिन बढ़ती तपन के चलते अब लोग एसी, पंखे की ओर जाने लगे हैं। जर्मनी में अब तक सबसे अधिक तापमान 38.2 डिग्री सेंटीग्रेड 1947 के दौरान फ्रेंकफर्ट में दर्ज किया गया था, जबकि इस बार पूरे जर्मनी का तापमान 40 डिग्री सेंटीग्रेड तक जाने के आसार हैं। जलवायु विशेषज्ञ आंद्रेयास मार्क्स ने यूरोप में चल रही गर्म हवाओं की तुलना 2018 में पड़े सूखे से करने को लेकर लोगों को आगाह किया। फ्रांस के मौसम विभाग ने भी अनुमान जताया है कि तापमान 40 डिग्री तक पहुंच सकता है। फ्रांसीसी मौसम विज्ञानी इमैनुएल दुमाएल ने कहा, ये अभूतपूर्व है क्योंकि गर्मी जून में जल्दी शुरू हो गई। हमने 1947 के बाद से ऐसा कभी नहीं देखा। फ्रांस के राष्ट्रपति मैक्रों ने की एहतियात बरतने की अपील फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने भीषण गर्मी झेल रहे देश और यूरोप के लोगों से अतिरिक्त एहतियात बरतने की अपील की है। वैज्ञानिकों के मुताबिक यूरोप में जलवायु परिवर्तन के कारण गर्म हवाएं बढ़ गई हैं।


Your Comments

First Name Last Name Your Website URL Your Reply

WAJA तेलंगाणा इकाई का उद्घाटन कार्यक्रम संपन्न

WAJA ( राइटर्स एण्ड जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन) तेलंगाणा इकाई का उद्घाटन कार्यक्रम 06-01-2019 को सायं 4 बजे नेशनल पुस्तक न्यास(आन्ध्रा महिला सभा)में एन.आर.श्याम की अध्यक्षता में संपन्न हुआ।

भुवनेश्वर -हजयारपाड़ा श्रीश्याममंदिर में समाजसेवी श्री शिवकुमार अग्रवाल के कुशल नेतृत्व में ओडिशा के मान्यवर राज्यपाल डा गणेशीलाल के सुखी वैवाहिक जीवन की 54वीं वर्षगांठ सनातनी परम्परा के अनुसार मनाई गई

पहली जुलाई को सायंकाल भुवनेश्वर -हजयारपाड़ा स्थित श्रीश्याम मंदिर में पूरी सनातनी परम्परा के अनुसार ओडिशा के मान्यवर राज्यपाल डा गणेशी लालजी के सुखी वैवाहिक जीवन की 54वीं वर्षगांठ हर्षोल्लास के साथ मनाई गई। मंदिर के मुख्य पुजारी पण्डित ब्रह्दत्त शास्त्री ने राज्यपाल महोदय को सपत्नीक भगवान खाटु नरेश की पूजा-ंउचयअर्चना कराई और उनसे दीर्घजीवी और स्वस्थ रहने का कामना की।

देश

"वाजा इंडिया"ने बैंगलुरू में स्थापित की अपनी इकाई

गत दिनों बैंगलुरू में राइटर्स एन्ड जर्नलिस्ट एसोसियेशन "वाजा इंडिया" की बैगलोर इकाई का उदघाटन समारोह बनशंकरी के श्री रंगा अपार्टमेंट में विधिवत सम्पन्न हुआ इस अवसर असोसिएशन के राष्ट्रीय महासचिव शिवेन्द्र द्विवेदी जी बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित थे, उनके द्वारा बैंगलोर इकाई के नव मनोनीत सदस्यो के नाम की घोषणा की गई एवं मनोनयन पत्र सौंपा गया।

क्रिकेट

सेरेना की शादी एक ऐतिहासिक जगह पर होगी सेरेना की शादी

अमेरिकी टेनिस स्टार सेरेना विलियम्स ने अपनी शादी को खास बनाने के लिए अलग अंदाज चुना है। लुसियाना के कंटेंपरेरी आर्ट सेंटर में होने वाले शादी के जश्न के लिए उन्होंने ‘ब्यूटी एंड द बीस्ट’ थीम चुनी। ब्रिटिश मीडिया के मुताबिक विवाह की रस्म स्थानीय समय के अनुसार गुरुवार देर रात तीन बजे होगी। भारत में उस वक्त दोपहर होगी। पार्टी को यादगार बनाने के लिए उन्होंने दुनिया के सर्वश्रेष्ठ पेशेवरों की मदद ली है। विशेष स्थापत्य कला के लिए पहचान रखने वाले ऐतिहासिक आर्ट सेंटर का मुख्य अहाता सुगंध वाले फूलों और क्रिस्टल से सजाया जाएगा। मेहमानों के लिए वातानुकूलित टेंट लगाए गए हैं। सेरेना और रेडिट के संस्थापक एलेक्स ओहानियन ने पिछले साल 29 दिसंबर को सगाई की थी। इससे पहले दोनों ने 15 महीने तक डेटिंग की पर किसी को इसकी भनक तक नहीं लगने दी। सेरेना ने इस साल जनवरी में ऑस्ट्रेलियन ओपन के रूप में अपना 21वां ग्रैंड स्लैम खिताब जीता था, उस वक्त वह कई सप्ताह की गर्भवती थीं। सितंबर में सेरेना ने बेटी एलेक्सिस को जन्म दिया।